हरिद्वार 28 मार्च।
देवसंस्कृति विश्वविद्यालय एवं शांतिकुंज में इस वर्ष प्राकृतिक गुलाल व फूलों से होली खेली गयी। देसंविवि के अभिभावक कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विद्यार्थियों के संग होली खेली।

उन्होंने रंग-बिरंगे फूलों के साथ होली खेली। विद्यार्थियों ने एक-दूसरे को गुलाल लगाते हुए अपनी प्रसन्नता व्यक्त की। आचार्यों को चंदन लगाकर उनसे आशीष लिया, तो वहीं कुलाधिपति ने सभी विद्यार्थियों को गुजिया बाँटकर वर्ष भर मिठाई की तरह मीठा आचार-विचार करने की प्रेरणा दी। आम्रकुंजों के बीच आयोजित होली मिलन समारोह के अवसर पर कुलपति डॉ. एसडी शर्मा, प्रतिकुलपति डॉ. चिन्मय पण्ड्या, कुलसचिव श्री संदीप कुमार आदि भी उपस्थित थे।  इस अवसर पर कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि होलिका दहन के साथ अपने एक बुराई का दहन कर जीवन के नवनिर्माण के लिए एक अच्छाई को अवश्य ग्रहण करें।

On March 27th, Honorable Chancellor Dr Pranav Pandya played Holi with students of DSVV.  The colorful festival of holi was celebrated sprinkling  flowers and herbal colors on each other, and also by singing songs and performing a nukkad natak.  Several Russians who have come to do sadhana in Shanitkunj also enjoyed the celebration. Bhoomi poojan for a new building for “Gram Prabandhan” was also performed on this day. Honorable Chancellor also announced that during his recent visit to Australia,  MOUs were signed with three universities and student exchange program will start soon between them.