20 Volunteers participated in the Adventure Camp organized by NSS

देव संस्कृति विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना विभाग की कार्यक्रम अधिकारी श्री मति अंजली भारद्वाज द्वारा दिनांक 1 से 13 अक्टूबर के बीच धर्मशाला (हिमाचल प्रदेश) में होने वाले साहसिक शिविर में प्रतिभाग किया गया। प्रस्तुत शिविर का आयोजन अटल बिहारी बाजपेयी इंस्टीटयूट आॅफ माउन्टेनियरिंग एण्ड एलाइड स्पोर्टस (धर्मशाला) में किया गया था। शिविर में उत्तराखण्ड से 20 स्वयंसेवियों की प्रतिभागिता रही। शिविर में समन्वय का कार्य श्रीमति अंजली भारद्वाज द्वारा किया गया। उनके अनुसार इस शिविर में ट्रेकिंग और माउन्टेनियरिंग मुख्य आकर्षण का केन्द्र रही। स्वयंसेवियों को 15 किलोमीटर की ट्रेंकिंग करा के इन्हें 4 दिन टेन्ट आवास में रखा गया जहाॅ इनको जलवायु के साथ सामंजस्य बिठाना था। इसके साथ ही इन्हें राॅक क्लाइमिंग, रीवर क्रासिंग, रैपलिंग, क्लाविंग इत्यादि भी कराई गयी। प्रस्तुत कार्यक्रम की सबसे बडी विशेषता यह थी कि इस कार्यक्रम में आपदा प्रबंधन भी सिखाया गया बच्चों को कई प्रकार की गाॅठे बाॅधना टेन्ट बनाना, खाना बनाना, फस्टेड, हिम प्रबंधन इत्यादि भी सीखाया गया। शिविर समापन पर सभी को इन्स्टीटयूट द्वारा प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया। विश्वविद्यालय लौटने पर कुलाधिपति महोदय डाॅ0 प्रणव पण्ड्या द्वारा कहा गया कि साहसिकता हमारे जीवन की एक ऐसी निधी है जिसे जगाकर सामाजिक जागरूकता हेतु भी बडे- बडे कार्य किए जा सकते है। प्रस्तुत कार्यक्रम हेतु विश्वविद्यालय परिवार द्वारा एन.एस.एस. के समन्वयक एवं कार्यक्रम अधिकारियों को बधाई दी गयी।