A one day Workshop held on Dialogic Literacy and Embodied Writing

अमेरिकी शिक्षण तकनीक से रूबरू हुए देसंविवि के शिक्षक
अमेरिका से आई डाॅ मरीन हाॅल ने सिखाया तकनीक
डायलाॅजिक लिट्रेसी एवं एम्बोडीड राइटिंग पर हुआ एक दिवसीय कार्यशाला

देसंविवि, हरिद्वार
देसंविवि के श्रीराम भवन में डायलाॅजिक लिट्रेसी एवं एम्बोडीड राइटिंग पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। अमेरिका से आई डाॅ मरीन हाॅल ने शिक्षण के विभिन्न तकनीक से देसंविवि के शिक्षकों को अवगत कराया। ये तकनीकें काफी रूचिकर अंदाज में शिक्षण में गुुणवत्ता बढ़ाने हेतु सिखाया गया। कार्यशाला में शिक्षण तकनीक में संवाद की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए डाॅ मरीन ने पढ़ाने में विद्यार्थी-शिक्षक सहभागिता, कहानियाँ आदि के प्रयोग के विषय में जानकारी दी। इसके साथ-साथ विभिन्न व्यवहारिक प्रयोगों को भी उन्होंने शिक्षकों से कराया। उन्होंने बताया कि ये सभी तकनीक शिक्षकों और विद्यार्थियों के बीच मित्रवत महौल बनाने में सहयोग करती है।
डाॅ मरीन ने शांतिकुंज एवं विश्वविद्यालय को अपना परिवार बताया तथा यह भी कहा की भारत हमारे लिए अपने घर जैसा है। विश्वविद्यालय परिवार ने गायत्री मंत्र चादर एवं युगसाहित्य भेट कर उन्का सम्मान किया। इस कार्यशाला में विश्वविद्यालय के सभी शिक्षकगण मौजूद रहे।